प्रभारी प्रधानाचार्य का नाम : डॉ. नन्द कुमार चौधरी (आचार्य)

प्रभारी प्रधानाचार्य का सन्देश

गुरुकुल परम्परानुसार इस महाविद्यालय में शास्त्राभ्यास के साथ ही सदाचार कि शिक्षा देना हमारा प्रधान लक्ष्य है क्योंकि शास्त्र कहता है कि “आचारहीनं न पुनन्ति वेदा:” अर्थात् आचारहीन व्यक्ति को वेद पवित्र नहीं करता है। हमारा दूसरा प्रयास रहता है छात्रों को संस्कृत बोलने में निपुण बनाना। इसमें हमारे छात्र और शिक्षक तत्पर रहते हैं। छात्रों को आधुनिक शिक्षा में भी दक्षता दिलाने का प्रयास रहता है। हमारे विश्वविद्यालय प्रतियोगिता में पुरस्कृत होते रहे हैं जिससे हमें संतोष होता है।